इस अवार्ड को प्राप्त करने वाले सबसे कम उम्र के एक्टर रहे पृथ्वीराज, जानें इनके जीवन से जुड़ी रोचक बातें

नई दिल्ली। साउथ फिल्मों के सुपरस्टार पृथ्वीराज सुकुमारन (Prithviraj Sukumaran) अभी हाल ही में कोरोनावायरस की चपेट से होकर बाहर निकले है। इस माहामारी के चलते वो तीन महीने तक जॉर्डन में फंसे थे अभी हाल ही में वो 22 मई को वो भारत लौटे हैं। पृथ्वीराज सुकुमारन (Prithviraj Sukumaran) मलयालम फिल्म इंडस्ट्री का वो सितारा है जिसने फिल्म इंडस्ट्री को एक नही बल्कि कई सुपरहिट फिल्म देकर अपना एक अलग मुकाम हासिल किया है।

पृथ्वीराज सुकुमारन का परिवार काफी लंबे समय से फिल्म इडंस्ट्री से जुड़ा हुआ है और इसी के चलते अभिनय उनके रग रग में बसा हुआ है। इनकी माता मल्लिका एक जानी मानी अभिनेत्री थीं। वहीं पिता सुकुमारन भी मलयालम फिल्मों में अपनी एक अलग जगह बनाए हुए थे। अभिनेता के माता पिता के फिल्म इडंस्ट्री में रहने के साथ इनके बड़े भाई इंद्रजीत भी एक जाने माने अभिनेता है।

पृथ्वीराज सुकुमारन जब अपनी कॉलेज की पढ़ाई पूरी कर रहे थे तभी उन्हें फिल्म में जाने का अवसर प्राप्त हो गया था। उन्हें निर्देशक रेंजिथ ने अपनी फिल्म नंदनम के लिए ऑफर किया था और इस फिल्म में काम करने के बाद उन्हें पहली ही फिल्म से भरपूर सफलता हाथ लगी। उनके काम को फैंस ने काफी सराहा।

पहली फिल्म नंदनम में मिली सफलता के बाद पृथ्वीराज की झोली में कई हिट फिल्में आई। इसके बाद उन्होंने 50 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया। जिनमें से कुछ फिल्में तो सुपरहिट साबित हुईं। साल 2006 में उन्हें फिल्म ‘वास्थवम ‘के लिए सर्वश्रेठ अभिनेता के केरल राज्य अवार्ड से सम्मानित किया गया। और इसी के साथ वो इस अवार्ड को पाने वाले सबसे कम उम्र के अभिनेता बने।

Also read  Monal Gajjar ने अपने पहले वेतन का किया खुलासा, पिता के साथ अंतिम क्षणों के बारे में बात करते हुए हुईं भावुक

फिल्मों में खास अभिनय के साथ साथ पृथ्वीराज सुकुमारन एक अच्छे गायक,प्रोडूसर और डायरेक्टर भी है। उन्होंने मलयालम के अलावा तमिल और तेलगु फिल्मों में भी काम किया है।


Source Link

Pin It on Pinterest

Share This