सिनेमाघरों में नई मूवी देखने के लिए करना होगा अभी और इंतजार

मुंबई। भारतीय सिनेमाजगत के लिए एक राहत की किरण लेकर आया है सरकार का वो आदेश जिसमें 15 अक्टूबर से सिनेमाघर खोलने की इजाजत दी गई है। हालांकि इसके साथ 50 प्रतिशत दर्शक क्षमता, बैठने में सोशल डिस्टेंसिंग जैसे सुरक्षात्मक उपायों को अपनाने की गाइडलाइन भी दी है। इसके बाद से फिल्म निर्माताओं और सिनेमाघर मालिकों ने कमर कस ली है, लेकिन फिलहाल पुरानी फिल्मों को ही दोबारा से थिएटर्स में रिलीज किया जाएगा। नई फिल्मों का इंतजार बहुत जल्द खत्म नहीं होने वाला है।

7 अक्टूबर को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने 15 अक्टूबर से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ राजधानी में सभी सिनेमा हॉल खोलने की अनुमति दी थी। हालांकि आम जनता 16 अक्टूबर से ही सिनेमाघरों में जाकर फिल्म देख सकेगी। कल यानी कि शुक्रवार से दिल्ली में पहली फिल्म 12 बजे वाले शो में दिखाई जाएगी। 30 अक्टूबर से पहले किसी भी नई फिल्म की रिलीज के दूर—दूर तक आसार नहीं हैं।

पीवीआर सिनेमा की तरफ से बताया गया कि, 16 अक्टूबर से इन सभी स्क्रीन्स पर मूवी लगाई जाएगी, आज रात से आम जनता पीवीआर सिनेमाज की वेबसाइट्स और अन्य ऑनलाइन माध्यम द्वारा टिकट बुक कर सकते हैं। 16 अक्टूबर से इंटरनेशनल ब्लॉकबस्टर माई स्पाई मूवी लगाई जाएगी। वहीं बॉलीवुड मूवीज में ‘तान्हाजी’, ‘शुभ मंगल सावधान’, ‘थप्पड़’ आदि मूवी लगाई जाएंगी।

दरअसल दिल्ली सिनेमा हॉल एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी। सिनेमा संगठनों के प्रतिनिधियों ने दिल्ली में सिनेमा हॉल खोलने के लिए दिल्ली सरकार का धन्यवाद भी जताया था। वहीं सिनेमा हॉल संगठनों को सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल और मानकों (एसओपी) का पालन करना होगा।

Also read  मशहूर कॉमेडियन एक्टर Mehmood के जिगरी दोस्त थे किशोर कुमार, काम मांगने पर भी फिल्म में नहीं दिया था रोल

इस बैठक में पीवीआर, एम2के, मूवी टाइम, सिनेमा पॉलिस, आइनॉक्स, यूनिटी, पैसिफिक आदि थिएटर के कंपनियों के प्रतिनिधि शामिल हुए थे। उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आश्वस्त किया कि भारत सरकार के साथ-साथ दिल्ली सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों और एसओपी का पूरी तरह से पालन किया जाएगा।

केंद्र और राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों और संचालन प्रक्रिया के मानकों (एसओपी) का सिनेमा हॉल को कड़ाई से पालन करना होगा। सिनेमा हॉल में सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन प्रोटोकॉल का पालन करना बहुत आवश्यक है।


Source Link

Pin It on Pinterest

Share This