Exclusive बॉलीवुड में ड्रग कल्चर है, कुछ लोग ड्रग्स लेते हैं, लेकिन पूरी इंडस्ट्री ड्रगी नहीं: अध्ययन सुमन

जो लोग कहते हैं कि स्टारकिड्स को इंडस्ट्री में आसानी से काम मिल जाता है तो उनके लिए मैं एक उदाहरण हूं। मुझे 12 वर्ष तक काम नहीं मिला। हां, ऐसे कुछ स्टारकिड्स हैं, जिन्हें फ्लॉप देने के बाद भी भरपूर काम मिलता है, लेकिन ऐसा नेपोटिज्म से ज्यादा ग्रुपिज्म की वजह से है। मैं खुद ग्रुपिज्म का शिकार रहा हूं। स्टारकिड होने के बावजूद लोगों ने मेरे फोन नहीं उठाए। मुझे काम नहीं मिला। ग्रुप्स में घुसना बहुत मुश्किल होता है। अगर आपको उनके गुट में शामिल होना है तो आपको उनके जैसा ही बनना पड़ता है। यह कहना है अभिनेता अध्ययन सुमन का। अभिनेता ने पत्रिका एंटरटेनमेंट से खास बातचीत की।

‘गाली—गलौच सही बात नहीं है’

अध्ययन का कहना है कि अभी बॉलीवुड इंडस्ट्री में बहुत ज्यादा नेगेटिविटी फैली हुई है। सभी को अपनी बात कहने का हक है, लेकिन सही तरीके से और सलीके से कहें तो अच्छा होता है। गाली—गलौच करना या अपने सीनियर कलाकारों को अपशब्द कहना गलत है। अगर आपको अपनी बात कहनी है तो सभ्य तरीके से कहें। हमने सुशांत के लिए जो लड़ाई शुरू की थी, वह अच्छे दिल से की थी। अब वह मुद्दा कहीं ओर ही जा रहा है।

Exclusive बॉलीवुड में ड्रग कल्चर है, कुछ लोग ड्रग्स लेते हैं, लेकिन पूरी इंडस्ट्री ड्रगी नहीं: अध्ययन सुमन

‘इंडस्ट्री में ड्रग कल्चर है’

बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन को लेकर अध्ययन ने कहा, ‘हां, हमारी इंडस्ट्री में ड्रग कल्चर है, लेकिन यह कहना कि इंडस्ट्री के 99 फीसदी लोग ड्रग्स लेते हैं, यह बहुत गलत है। अगर ऐसा होता तो हमारी इंडस्ट्री कैसे काम करती। हां, कुछ लोग हैं जो ड्रग्स लेते हैं। उनके खिलाफ कोई सबूत है तो जांच होनी चाहिए। बॉलीवुड में बहुत से ऐसे सितारे हैं, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाई है। सबके बारे में इस तरह की बातें कहना गलत है।’

Also read  माधवन ने 19 साल बाद माना, 'रहना है तेरे दिल में' रिलीज के समय फ्लाप थी, बाद में लोगों ने...

‘मेरा नाम ना घसीटें’

मेरे बारे में भी लोगों ने तरह—तरह की बातें फैलाइ गई थी। मुझे पागल बताया गया था, कहा गया था कि मैं कोकीन एडिक्ट हूं। ऐसी बातें ग्रुपिज्म में शामिल कुछ लोग फैलाते हैं। अभी इंडस्ट्री के लोग एक दूसरे पर कीचड़ उछाल रहे हैं। मेरा नाम भी घसीटा जा रहा है। मैं लोगों से अपील करूंगा कि मैं बहुत मुश्किल दौर से गुजरा हूं। मुझे जो कहना था कि वह 2016 में कह चुका हूं। तब इस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया। अब मेरी लाइफ फिर से पटरी पर आई तो मुझे मेरा काम करने दें।

आगामी प्रोजेक्ट्स

अध्ययन ने आगामी प्रोजेक्ट्स को लेकर बताया कि जल्द ही ‘आश्रम 2’ की घोषणा होगी। इसके अलावा मैं दो फिल्में करने जा रहा हूं और दो गाने भी आ रहे हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि कोरोना की वजह से शूटिंग में थोड़ा डर लग रहा है, लेकिन काम तो करना ही पड़ेगा।


Source Link

Pin It on Pinterest

Share This