‘Munna Bhai’ मूवीज ही नहीं, इन फिल्मों में भी दिखाई गई गांधीगिरी, देखें ऑनलाइन

मुंबई। संजय दत्त ( Sanjay Dutt ) की ‘मुन्ना भाई’ फ्रेेंचाइजी में गांधीगिरी से दर्शकों को प्रेरित करने की सफल कोशिश की गई। इस मूवी के बाद लोगों गांधीगिरी के साथ पेश आने के कई उदाहरण पेश किए। ‘मुन्ना भाई’ के अलावा भी कई ऐसी मूवीज हैं जो गांधीगिरी पर आधारित हैं। आइए जानते हैं कौनसी हैं वे मूवीज:

यह भी पढ़ें: — Viral Video पर आए गंदे कमेंट्स पर नोरा फतेही ने लगाई लताड़, टेरेंस ने सुनाई साधु की कहानी

हमने गांधी को मार दिया: नईम ए सिद्दीकी द्वारा निर्देशित साल 2018 में आई फिल्म में दो अजनबियों कैलाश और दिवाकर की कहानी बताई गई है। दोनों एक ट्रेन यात्रा के दौरान मिलते हैं। फिल्म ब्रिटिश राज के अंत के बाद विभाजन की पृष्ठभूमि पर आधारित है। कहानी उन दो पात्रों की बातचीत पर है, जो महात्मा गांधी की हत्या के साथ उनके दर्शन के बारे में परस्पर विरोधी विचार रखते हैं। फिल्म शेमारूमी पर देखी जा सकती है।

रोड टू संगम : अमित राय द्वारा निर्देशित 2009 की फिल्म में उत्तर प्रदेश के रहने वाले एक कट्टर मुस्लिम हसमत की कहानी को दिखाया गया है। मैकेनिक का काम करने वाले हसमत को एक पुरानी लॉरी की मरम्मत करने के लिए कहा जाता है। वह इस बात से अनजान है कि यह वही वाहन था, जो गांधी के राख के साथ जा रही है। वह अपना काम पूरा करता है, लेकिन स्थिति तब जटिल हो जाती है, जब उसे कलश के पीछे की सच्चाई का पता लगाता है और गांधी के अंतिम अवशेषों को ले जाने का फैसला करता है। फिल्म में परेश रावल के साथ दिवंगत ओम पुरी और पवन मल्होत्रा हैं। फिल्म शेमारूमी पर देखी जा सकती है।

Also read  क्या 'Bigg Boss' के लिए पूनम पांडे ने जगजाहिर की पति संग लड़ाई, जानिए क्या कहा

गांधीगिरी : फिल्म में दिवंगत ओम पुरी एनआरआई राय साहब की भूमिका निभाते हैं, जो महात्मा गांधी के सिद्धांतों में विश्वास करते हैं। भारत लौटने पर वह चार उन लोगों में खुद को पाता है, जिन्होंने जीवन में गलत चुनाव किए हैं। फिल्म में दिखाया गया है कि वह कैसे गांधी के उदाहरण का अनुसरण कर उन्हें सुधारने का प्रयास करते हैं। फिल्म एमेजॉन प्राइम वीडियो पर उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें: – यूजर बोला, ‘सिनेमाघर खुलें या नहीं, आप तो बेकार ही रहोगे’, Abhishek Bachchan ने दिया करारा जवाब

नन्नू गांधी : एनआर नानजुंदे गौड़ा की साल 2008 में आई कन्नड़ फिल्म बच्चों के एक समूह के इर्द-गिर्द घूमती है, जो गांधी के सिद्धांतों और विचारों का पालन करते हुए अपने आसपास के लोगों को प्रेरित करते हैं। यह डिज्नी हॉटस्टार पर उपलब्ध है।

रीबूटिंग महात्मा: साल 2019 में रिलीज होने वाली गुजराती फिल्म महात्मा गांधी के एक मानवीय संस्करण की अवधारणा पर आधारित है। उन्हें 21वीं शताब्दी में लाया गया है और बापू विभिन्न विषयों पर चर्चा करते हैं जो आज की दुनिया को प्रभावित करते हैं, जैसे कि राजनीतिक प्रणाली, बॉलीवुड, सोशल मीडिया और युवा। फिल्म शेमारूमी पर देखी जा सकती है।


Source Link

About Kabir Singh

Hello and thank you for stopping by T3B.IN! Here you will find the most rated, Bollywood, Hollywood, Entertainment related news articles by me, Kabir Singh, creator of this news website. Founder of T3B.IN. I love to share new things with people.

View all posts by Kabir Singh →