भारत ही नहीं, विदेशों में भी हैं कई प्रचलित शिव मंदिर, दर्शन के लिए हर साल उमड़ते हैं लाखों लोग

Rate this post

भारत के अलावा भी कई ऐसे देश हैं जहां शिव जी के भक्त काफी संख्‍या में मौजूद हैं और वहां पूजा के लिए वहां प्रचलित शिव मंदिर भी हैं. इनमें कई मंदिर ऐसे हैं जो हजारों साल पुराने हैं और आज तक अस्तित्‍व में हैं.

वैसे तो शिव की आराधना कई तरीके से और कई जगहों पर की जाती है. मुख्‍य रूप से भारत और नेपाल के हिन्‍दू धर्म को मानने वाले भगवन शिव को अपने श्रेष्‍ठतम देवता के रूप में पूजते हैं लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि भारत के अलावा भी कुछ देश हैं जहां भोलेनाथ के भक्त काफी संख्‍या में हैं. यही वजह है कि वहां पूजा करने के लिए शिव जी के कई प्रचलित मंदिर भी हैं.

इनमें कई मंदिर ऐसे हैं जो हजारों साल पुराने हैं और आज तक अपना अस्तित्‍व बनाए हुए हैं. तो आइए आज हम विदेशों में स्थित शिव मंदिरों की जानकारी देते हैं जो अपनी भव्यता और स्थापत्य शैली की वजह से दुनियाभर में काफी प्रचलित है.

See also  जन्माष्टमी पर विशेष कृपा बरसाते हैं भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी, प्रसन्न करने के लिए कर लें ये उपाय

विदेश के प्रचलित शिव मंदिर

मुन्नेश्वरम मंदिर, श्रीलंका (Munneswaram Temple, Sri Lanka)

श्रीलंका स्थित मुन्नेश्वरम मंदिर शिव भक्‍तों में काफी प्रचलित है. आपको बता दें कि ये शिव मंदिर रामायण काल में बनाया गया था और इसके पीछे कई पौराणिक कथाएं हैं. कहा जाता है कि रावण को हराने के बाद श्रीराम ने यहीं बैठकर शिव की आराधना की थी. जानकारी दे दें कि इस मंदिर परिसर में 5 मंदिर हैं.

अरुल्मिगु श्रीराजा कलिअम्मन मंदिर, मलेशिया (Arulmigu Sri Rajakaliamman Temple, Malaysia)

मलेशिया स्थित इस शिव मंदिर का निर्माण 1922 में किया गया था जिसकी खूबसूरती हर किसी को आकर्षित करती है. इस भव्य मंदिर की बनावट काफी आकर्षक है और यह मंदिर जोहोर बरु के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है. आपको बता दें कि ये कांच का बना पहला शिव मंदिर है. इस मंदिर की दीवार पर 3,00,000 रुद्राक्ष की मालाएं जड़ी हुई है जो वाकई दिखने में भव्‍य लगती हैं.

पशुपतिनाथ मंदिर, नेपाल (Pashupatinath Temple, Nepal)

नेपाल स्थित पशुपतिनाथ मंदिर भी बहुत मशहूर है. यहां दुनियाभर से श्रद्धालु मंदिर के दर्शन करने आते हैं. भगवान शिव का यह अति-प्राचीन मंदिर काठमांडू में स्थित है जो बागमती नदी के किनारे स्थित है. भगवान शिव यहां के सभी शासकों के अधिष्ठाता देव रहे हैं. कहा जाता है कि जो श्रद्धालु इस मंदिर का दर्शन करते हैं उनका फिर कभी पशु योनि में जन्‍म नहीं होता.

See also  Video: शिव तांडव का रोंगटे खड़े करनेवाला वीडियो, 14 तबला वादकों की अनोखा संगम

शिव मंदिर, ज्यूरिख, स्विट्जरलैंड (Shiva temple in Zurich, Switzerland)

स्विटजरलैंड के ज्यूरिख में स्थित यह शिव मंदिर अपनी स्‍थापत्‍य कला के लिए काफी लोकप्रिय है. इस मंदिर में शिवलिंग, नटराज की मूर्ति और मां पार्वती विराजमान हैं. शिवरात्रि के दिन यहां काफी धूमधाम से त्‍योहार मनाया जाता है.

शिव मंदिर, ऑकलैंड, न्यूजीलैंड (Shiva Temple, Auckland, New Zealand)

न्यूजीलैंड के ऑकलैंड स्थित शिव मंदिर भी वाकई काफी खूबसूरत है. इसका निर्माण आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी शिवेंद्र महाराज और यज्ञ बाबा ने कराया था. यहां भगवान शिव नवदेश्वर शिवलिंग के रूप में स्थित हैं. बता दें कि 2004 में पहली बार भक्तों के लिए इस मंदिर का कपाट खोला गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *