Munshi Premchand की 84वीं बरसी: उनकी कहानियों पर कई फिल्में बनीं, लेकिन प्रेमचंद को रास नहीं आई फिल्मी दुनिया

—दिनेश ठाकुर किसी साहित्यकार की रचना की सिनेमा के पर्दे पर हू-ब-हू तर्जुमानी नामुमकिन भले न हो, मुश्किल जरूर है। …

Read More